आलू की बंपर पैदावार कैसे करें ? आलू को मोटा कैसे करें ? how to thicken potatoes

 

 

आलू मोटा करने की दवा / आलू की खेती उत्तर प्रदेश 2022-23 / आलू की सिंचाई

आलू को मोटा करने की दवा

 

 

 

 किसान बोले- ज्यादा होती है  आलू मोटा करने की कौन सी दवा है? पैदावार, सेहत पर कोई नुकसान

नहीं दरअसल, बुलंदशहर के शिकारपुर कोतवाली,, इलाके के गांव बोहिच में इन दिनों में किसान आलू आलू की पैदावार बढ़ाने के लिए क्या करें?

की अधिक पैदावार करने के लिए कीटनाशक दवाओं के साथ साथ शराब का भी स्प्रे कर रहे हैं।

किसानों का कहना है कि, देशी शराब के स्प्रे से आलू को मोटा करने की दवा

की पैदावार में बढ़ोतरी होती है और आलू जल्द ही

पक जाता है। किसान लोकेश कुमार ने बताया कि शराब के स्प्रे से आलू पर कोई असर नहीं पड़ता है।

ठंड में अधिक पाला पड़ने की वजह से भी आलू को मोटा करने की दवा  में शराब का स्प्रे किया जाता है?

ऐसी ही तस्वीर गांव जमालपुर से भी आई है? यहां भी किसान अपने

आलू को मोटा करने की दवा के खेती में केवल शराब का

ही स्प्रे कर रहे हैं? किसान मांगे राम का कहना है? कि, यह काम वो

पिछले कई साल से करते चले आ रहे?

हैं। इससे उनको काफी फायदा है? आलू की पैदावार बढ़ाने के लिए

क्या करें? को खाने से होने वाले नुकसान पर किसान ने कहा कि,

इतनी

 

 

आलू में कौन सी खाद डालें?

 

कम मात्रा में शराब लगाते हैं, जिससे आलू को खाने से कोई फर्क नहीं पड़ता। यह काम तो केवल बंपर

पैदावार करने के लिए किया जाता है। इस गांव का लगभग हर किसान आलू की फसल में कीटनाशक आलू की पैदावार बढ़ाने के लिए क्या करें?

दवा के साथ साथ शराब का स्प्रे करता है।

जिला कृषि रक्षा अधिकारी अमन सिंह ने बताया कि, शराब का स्प्रे गलत है। इसका कोई वैज्ञानिक

आधार नहीं है। लेकिन किसान अलग-अलग तरीके से अपने प्रयोग करता रहता है। किसान मान रहे हैं आलू की पैदावार बढ़ाने के लिए क्या करें?

कि शराब के स्प्रे से आलू अधिक मोटा अधिक पैदावार हो जाती है। लेकिन किसानों से अपील है कि, वह ऐसा न करें।

 

  1. आलू मोटा करने की कौन सी दवा है?
  2. आलू की पैदावार बढ़ाने के लिए क्या करें?
  3. आलू में कौन सी खाद डालें?
  4. आलू में दारू डालने से क्या फायदा?
  5. आलू की सिंचाई
    आलू की फसल में खरपतवार नियंत्रण
    चिप्सोना आलू की खेती
  6. आलू का बीज कहां मिलता है
    आलू की खेती pdf
    राजस्थान में आलू की खेती
    आलू की पैदावार 2022

 

आलू की जल्दी तैयार होने वाली किस्में / आलू की उन्नत खेती

 

कुफरी अशोक,Potato  कुफरी पुखराज और कुफरी सूर्या Potato की उन्नत किस्में हैं और ये बहुत जल्दी तैयार हो जाते हैं। Potato

 

 

कुफरी अशोक

 

इस किस्म के कंदों का रंग सफेद होता है और at लगभग 80 से 85 दिनों के भीतर खींच कर तैयार हो जाता है। Potato इस की उत्पादन कूवत 301 से 356 क्विंटल प्रति हेक्टेयर होती है।

कुफरी पुखराज

 

 

इस प्रजाति के Potato के कंदों का रंग सफेद और गूदा पीला होता है? इस की फसल 80 से 85 दिनों में पक कर तैयार हो जाती है। 1 हेक्टेयर खेत में 301से 356 क्विंटल फसल पाई जा सकती है?

 

 

 

कुफरी सूर्या

 

इस किस्म के आलू का रंग सफेद होता है?और यह किस्म 75 से 90 दिनों के भीतर पक कर तैयार हो जाती है। इस में प्रति हेक्टेयर लगभग 300 क्विंटल की पैदावार होती है?

 

 

 

आलू की मध्यम समय में तैयार होने वाली किस्में

 

कुफरी ज्योति, Potato कुफरी अरुण, Potato कुफरी लालिमा,Potato  कुफरी कंचन और कुफरी पुष्कर मध्यम अवधि में तैयार होने वाली आलू की किस्में हैं।

कुफरी ज्योति Potato 2022

 

इस आलू Potato के कंद सफेद रंग के अंडाकार और उथली आंखों वाले होते हैं। यह किस्म 90 से 100 दिनों में पक कर तैयार हो जाती है। इसकी एक हेक्टेयर में लगभग 300 क्विंटल फसल मिलती है।

 

 

कुफरी अरुण Potato 2022

 

इस आलू Potatoके कंदों का रंग लाल होता है और यह पकने में 100 दिन का समय लेती है।Potato  इससे प्रति हेक्टेयर 351 से 356 क्विंटल की उपज प्राप्त की जा सकती है।

 

 

 

कुफरी लालिमा 2022

 

इस आलूPotato के कंदों का रंग लाल होता है और यह 90 से 100 दिनों में पक जाती है। इसकी एक हेक्टेयर में 351 से 356 क्विंटल उपज प्राप्त की जा सकती है।

 

 

 

कुफरी कंचन 2022 

 

इस आलू किस्म का रंग लाल होता है और यह 100 दिनों में पक कर तैयार जाती है। इससे प्रति हेक्टेयर लगभग 350 क्विंटल उत्पादन प्राप्त किया जा सकता है।

 

 

कुफरी पुष्कर Potato 2022

 

इस आलू की आंखें गहरी और गूदे का रंग पीला होता है। इस किस्म की खेती से प्रति हेक्टेयर 350 से 400 क्विंटल तक उत्पादन प्राप्त किया जा सकता है। Potato

 

 

.